Home इनफार्मेशन टेक हैकर ने किया दावा सुरक्षित नहीं है Aarogya Setu App में करोड़ो भारतीयों का डेटा

हैकर ने किया दावा सुरक्षित नहीं है Aarogya Setu App में करोड़ो भारतीयों का डेटा

by Nitika Senwal
Aarogya Setu App

थोड़े ही समय पहले इस जानलेवा कोरोना वायरस को बढ़ता देख भारत सरकार ने कोरोना को ट्रैककरने वाली Aarogya Setu App ( आरोग्य सेतु ऐप ) लांन्च कर थी जो की Corona को track करने वाली Aarogya Setu App को राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र ने इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने साथ मिलकर बनाई गयी थी । Corona Tracking Aarogya Setu App 11 भाषाओं में उपलब्ध थी पर अब ये खबर आ रही है की Aarogya Setu App में आपका डेटा सुरक्षित नहीं है क्योकि फ्रांस का एक सिक्योरिटी रिसर्चर Robert Baptiste, जो Elliot Alderson के नाम से एक ट्विटर पर है उन्होंने ट्विटर के जरिए Aarogya Setu टीम से कहा कि आपके App में सिक्योरिटी का इश्यू है। 9 करोड़ लोगों की प्राइवेसी को खतरा है। क्या आप मुझसे अलग से बात कर सकते हैं?

जाने कौन सी है इंडिया में Best 10 Web Series Apps

जानिए Aarogya Setu App की कुछ और बाते

Aarogya Setu App भारत में रिकॉर्ड तोड़ तरीके से सबसे ज्यादा डाउनलोड किया गया है। लॉन्च के कुछ दिनों के भीतर ही भारत भर में Aarogya Setu App  को करोड़ो बार डाउनलोड कर लिया गया है। समूहों ने इसकी आलोचना करनी शुरू कर दी है। लेकिन इससे ऐप के ऊपर किसी प्रकार का फ्रर्क पड़ता नज़र नहीं आ रहा है।

किन – किन के लिए उपलब्ध है Aarogya Setu App 

Corona  Tracking Aarogya Setu App  ऐंड्रॉयड और आईफोन दोनो के लिए ही उपलब्ध है। ऐप यूजर अपने फोन की लोकेशन  , मोबाइल नंबर और ब्लूटूथ का इस्तेमाल करके Corona Track कर करता है और यह भी देख सकता है कि वह किसी Corona पॉजिटिव व्यक्ति के संपर्क में तो नहीं आया है।

Aarogya Setu App

Corona Tracking Aarogya Setu App में Corona के हेल्प सेंटर और सेल्फ असेसमेंट टेस्ट जैसे ऑप्शन मौजूद हैं जिनसे आप यह जांच सकते हैं कि कहीं आपको भी जाने-अनजाने Corona के संपर्क में तो नहीं है। आरोग्य सेतु ऐप के दो सबसे खास फीचर्स है। पहला राज्यवार कोविड-19 हेल्प सेंटर के फोन नंबर्स की लिस्ट। दूसरा- सेल्फ असेसमेंट। इस फीचर के जरिए आप यह जांच कर सकते हैं कि आपको कोरोना वायरस का खतरा है या नही।

भारत ने लांन्च की Aarogya Setu App जो करेगी कोरोना को ट्रैक

सरकार ने कहा

वही भारत सरकार ने कहा है कि हम हैकर से बात कर चुके, चिंता करने की जरूरत नहीं है। आईटी मंत्री रवि शंकर प्रसाद का कहना है कि Aarogya Setu App पूरी तरह सुरक्षित है। रुटीन डेटा 30 दिन के बाद स्टोर नहीं रहता। अगर कोई संक्रमित है तो उसका डेटा 45 से 60 दिन तक रहता है।

Aarogya Setu App की टीम ने ट्विटर पर दी गई जानकारी में बताया है कि ‘हमें ऐप में संभावित सुरक्षा के मुद्दे पर हैकर द्वारा सतर्क किया गया था, जिसके बारे में हमने कुछ हैकर्स के साथ भी चर्चा की। लेकिन इसमें एथिकल हैकर द्वारा किसी भी यूजर की कोई भी व्यक्तिगत जानकारी हैक नहीं हो पाई। इससे स्पष्ट होता है कि यूजर का डाटा पूरी तरह से सुरक्षित है।

Microsoft : जल्द ही आप कर सकेंगे Computer से अपने SmartPhone का म्यूजिक कंट्रोल

एथिकल हैकर सरकार के जवाब से संतुष्ट नहीं है Aarogya Setu टीम के जवाब पर कहा कि मैं कल फिर आपसे बात करूंगा। App के लोकेशन के रेफरेंस में दो घंटे बाद ही सरकार से पूछ लिया कि क्या आप जानते हैं ट्राएंगुलेशन क्या है ?

You may also like

Leave a Comment

* By using this form you agree with the storage and handling of your data by this website.